Coronavirus India Lockdown: कोरोना वायरस lockdown से जुड़ी कुछ अहम जानकारी

नमस्कार दोस्तों, यह आर्टिकल किसी भी टेक अपडेट और टेक्नोलॉजी से संभावित नहीं है। यह आर्टिकल मोदी सर के द्वारा कोरोना वायरस को काम करने के लिए उठाये गए कदम coronavirus india lockdown के बारे मे।

भारत मे कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को ध्यान मे रखते हुए मोदी सर ने 24 मार्च के 12 बजे से पुरे भारत को बंद कर करने का कदम उठाया है। यह lockdown 3 हफ्ते यानि 21 दिनों का होगा। इस फ़ैसले को सुनने के बाद कुछ लोगों ने अफरातफरी और फेक न्यूज़ फैलना शुरू कर दिया। इसीलिए असल में इस lockdown मे क्या क्या सुविधा चालू रहेंगी और क्या क्या सुविधा बंद रहेंगी के बारें मे बताने के लिए हमने यह आर्टिकल लिखा है।

Coronavirus India Lockdown Hindi

क्यों मोदी सर ने यह फैसला लिया? इस फैसले से होगा क्या?

मोदी सर ने यह फैसला, भारत मे बढ़ते हुए कोरोना वायरस के मामलों को ध्यान मे रखते हुए लिया है। और अगर आपके मान मे हो की इस फैसले से कुछ नहीं होगा, तो आप गलत सोच रहे है अगर हम सभी इस फैसले का और मोदी सर का साथ दे तो हम कोरोना वायरस की चैन जो बनती ही जा रही है उसे तोड़ देंगे जिससे कोरोना वायरस के मामलों मे रोकथाम लग जाएगी।

क्यूंकि यह lockdown 21 दिनों (3 हफ्तों तक चलने वाला है) भारत सरकार ने कुछ जरुरी सुविधाओं को चालू रखा है। पढ़िए इनके बारे में…

लॉकडाउन का मतलब क्या है?

लॉकडाउन में किसी भी व्यक्ति को अपने घर से निकलने की अनुमति नहीं होती। उन्हें सिर्फ दवा, अनाज या फिर बैंक व एटीएम से पैसा निकालने जैसी जरूरी चीजों के लिए बाहर आने की इजाजत मिलती है।

लॉकडाउन में कौन सी सुविधाएं मिलती रहेंगी?

  • पुलिस थाने, अस्पताल, अग्नि शमन विभाग, जेल, महत्वपूर्ण सरकारी दफ़्तर, खाद्यान्न, किराना स्टोर(दिन मे कुछ समय के लिए खुलेगा)
  • बिजली-पानी, इंटरनेट, बैंकिंग और एटीएम सुविधा।
  • पोस्ट ऑफिस, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को अनुमति।

लॉकडाउन के दौरान क्या-क्या बंद रहेगा?

  • दुकानें, बड़े स्टोर, फैक्ट्रियाँ, वर्कशॉप, दफ़्तर, गोदाम, साप्ताहिक बाजार।
  • सार्वजनिक परिवहन बंद, कुछ राज्यों में 25% सरकारी बसें चलेंगी।
  • एक से दूसरे राज्य को जोड़ने वाली बस और रेल सेवाएं, धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रम।

क्या लोग अपने वाहन से बाहर जा सकेंगे?

अति-आवश्यक काम जैसे मेडिकल इमरजेंसी की जरूरत में एंबुलेंस की सेवाएं ली जा सकती हैं। या कोई अन्य आपातकाल हो तो आपकी सुरक्षा व्यवस्था से जुड़े प्रशासन के लोगों से मदद लेनी होगी। अपने निजी वाहन से घूमने फिरने की अनुमति नहीं होगी।

क्या रोजमर्रा की जरूरतें उपलब्ध होंगी?

सब्जी- फल, किराना, दूध, दवाएं आदि रोज काम आने वाली जरूरी वस्तुएं इस लॉकडाउन के दायरे से बाहर रहेंगी।

वैवाहिक या अन्य कार्यक्रमों का क्या होगा?

किसी भी सामूहिक सामाजिक कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति नहीं है। यदि आवश्यक ही हाे ताे इसकी मंजूरी प्रशासन से लेनी होगी।

लॉकडाउन में सरकारी-प्राइवेट संस्थान बंद हैं?

सरकारी-प्राइवेट संस्थान सभी बंद। सिर्फ जरूरी आपातकालीन सेवाओं से जुड़े विभाग के ऑफिस ही खुले रहेंगे।

अंतिम संस्कार को लेकर नियम ?

अंतिम संस्कार के मामले में, 20 से अधिक व्यक्तियों की मण्डली को अनुमति नहीं दी जाएगी।

नियम का पालन ना करने वाले को दंड?

यदि कोई भी व्यक्ति इस नियम का पालन नहीं करता तो वह सीधा सीधा दंड का पात्र बन जाएगा, जिसके फलस्वरूप उस व्यक्ति को 1 साल की जेल होगी।

एक बार दुबारा बता दे यह lockdown 21 दिनों तक चलेगा। तो आशा करते है आप इस नियम का पालन करेंगे साथ ही अपने जानकारों को भी नियम का पालन करने के लिए समझाएंगे।

Leave a Reply